डिजिटल मार्केटिंग में कैरियर कैसे बनाएं (digital marketing me career kaise banaye)

Telegram Group (Join Now) Join Now
WhatsApp channel (Join Now) Join Now

आज के समय में सभी छात्र यह चाहते हैं कि वह किसी ऐसे कैरियर को चुने जिसमें उनका भविष्य उज्जवल हो,

और आज के समय में डिजिटल मार्केटिंग एक ऐसा क्षेत्र है जो बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है। 

क्योंकि आजकल सभी कंपनियां अपना प्रचार करने के लिए डिजिटल मार्केटिंग का उपयोग कर रही हैं और इसके लिए वह अच्छे डिजिटल मार्केटर की खोज कर रही है, इसीलिए यदि आप डिजिटल मार्केटिंग में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प हो सकता है।

इसी को ध्यान में रखते हुए आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताएंगे कि कैसे आप डिजिटल मार्केटिंग में अपना कैरियर बना सकते हैं और अपने कैरियर को नई ऊंचाइयों दे सकते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग में कैरियर कैसे बनाएं ?digital marketing me career kaise banaye?

डिजिटल मार्केटिंग में कैरियर कैसे बनाएं ?digital marketing me career kaise banaye
Telegram Group (Join Now) Join Now
WhatsApp channel (Join Now) Join Now

जब कोई कंपनी अपनी किसी प्रोडक्ट या सर्विस का प्रमोशन करने के लिए इंटरनेट का प्रयोग करती है तो उसे डिजिटल मार्केटिंग कहते हैं।

पहले के समय में मार्केटिंग ऑफलाइन होती थी और कंपनियां अपना प्रोडक्ट बेचने के लिए समाचार पत्र या रेडियो का प्रयोग करती थी। 

लेकिन आज के समय में कंपनियां फेसबुक, इंस्टाग्राम, पिंटरेस्ट, यूट्यूब के माध्यम से अपना प्रचार करती हैं और अपने प्रोडक्ट को बेचती हैं।

डिजिटल मार्केटिंग कैसे सीखे ?

आप डिजिटल मार्केटिंग को ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरीकों से सीख सकते हैं और डिजिटल मार्केटिंग में एक्सपर्ट बन सकते हैं। 

यदि आप ऑफलाइन डिजिटल मार्केटिंग सीखना चाहते हैं तो आप जिस भी शहर में रहते हैं आप वहां पर डिजिटल मार्केटिंग इंस्टीट्यूट में जाकर डिजिटल मार्केटिंग सीख सकते हैं।

इसके अलावा यदि आप चाहें तो डिजिटल मार्केटिंग में डिप्लोमा भी कर सकते हैं।यदि आप ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग सीखना चाहते हैं तो डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स खरीद सकते हैं और अपने घर से ही डिजिटल मार्केटिंग सीखना शुरू कर सकते हैं।

लेकिन हमेशा आप उन्हीं लोगों से कोर्स खरीदे जो पहले से ही डिजिटल मार्केटिंग की फील्ड में एक्सपर्ट हो क्योंकि आज के समय में बहुत सारे लोग केवल अपना कोर्स बेचने के लिए बाजार में आते हैं और अपना कोर्स बेच कर चले जाते हैं 

उससे लोगों को किसी भी तरह का वैल्यू नहीं मिलता है, इसीलिए आप कोर्स खरीदने से पहले अच्छे से रिसर्च कर ले उसके बाद ही किसी भी कोर्स को खरीदें।

डिजिटल मार्केटिंग में क्या पढ़ना पड़ता है ?

डिजिटल मार्केटिंग एक बहुत बड़ी फील्ड है जिसमें आपको कई तरह की चीजें सीखने को मिलती हैं, इसको सीखकर आप किसी भी बिजनेस को आगे बढ़ा सकते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग के विषय

  • सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO)
  • एफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate Marketing)
  • सोशल मीडिया मार्केटिंग (Social Media Marketing)
  • कंटेंट मार्केटिंग (Content Marketing)
  • ईमेल मार्केटिंग (Email Marketing)
  • इनफ्लुएंसर मार्केटिंग (Influencer Marketing)
  • पे पर क्लिक (Pay Per Click)

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO)

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) एक ऐसा तरीका है जिसकी सहायता से आप अपनी वेबसाइट को गूगल के पहले पेज पर रैंक करा सकते हैं।

इसमें आपको कई तरह की चीजें सिखाई जाती है कि कैसे आपको कीवर्ड रिसर्च करना है, लिंक बिल्डिंग कैसे करना है जैसी बहुत सारी चीजें इसमें सिखाई जाती है।

एफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate Marketing)

एफिलिएट मार्केटिंग में आपको किसी कंपनी के प्रोडक्ट या सर्विस को सेल कराने पर कुछ कमीशन दिया जाता है उसे ही एफिलिएट मार्केटिंग करते हैं। 

इसमें आपको एफिलिएट मार्केटिंग के पूरे कंसेप्ट के बारे में समझाया जाएगा कि यह कैसे काम करता है और इसको सीखकर आप अपने और अपने कंपनी के लिए सेल ला सकते हैं।

सोशल मीडिया मार्केटिंग 

अपने किसी भी प्रोडक्ट या सर्विस को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे यूट्यूब, फेसबुक, इंस्टाग्राम, पिंटरेस्ट के द्वारा प्रमोट करना सोशल मीडिया मार्केटिंग कहलाता है। 

सोशल मीडिया मार्केटिंग मैं आपको बताया जाएगा कि कैसे आप इसका उपयोग करके अपने प्रोडक्ट या सर्विस को अपने ऑडियंस तक पहुंचा सकते हैं और अच्छा लाभ कमा सकते हैं।

कंटेंट मार्केटिंग (Content Marketing)

कंटेंट एक ऐसा तरीका है जिसकी सहायता से हम अपने टारगेट ऑडियंस तक पहुंच सकते हैं यह एक प्रकार का सूचना,विचार या ज्ञान है जिसे हम ऑनलाइन माध्यम से शेयर करते हैं। 

कंटेंट का प्रयोग किसी भी चीज को अपने ऑडियंस को समझाने के लिए किया जाता है, कंटेंट टेक्स्ट,ऑडियो,वीडियो फॉर्मेट में होता है, इसमें आपको बताया जाएगा कि कैसे आप एक अच्छा कंटेंट लिखकर अपने प्रोडक्ट या सर्विस को सेंड कर सकते हैं।

ईमेल मार्केटिंग (Email Marketing)

ईमेल मार्केटिंग एक ऐसा तरीका है जिसकी सहायता से आप ईमेल के द्वारा लोगों को अपने प्रोडक्ट और सर्विस के बारे में लोगों को बता सकते हैं और अपना प्रोडक्ट या सर्विस सेल कर सकते हैं। ईमेल मार्केटिंग में आपको पूरी विस्तार से बताया जाएगा कि कैसे आप इसका प्रयोग करके अच्छा लाभ कमा सकते हैं।

इनफ्लुएंसर मार्केटिंग (Influencer Marketing)

जब भी कोई सेलिब्रिटी किसी प्रोडक्ट का प्रचार करते हैं तो हम उन से प्रभावित होकर उस प्रोडक्ट को खरीदने के लिए जल्दी ही तैयार हो जाते हैं और यही हमारे ऊपर उनका इनफ्लुएंस है।

इस इनफ्लुएंस के कारण किसी कंपनी के प्रोडक्ट की मार्केटिंग होती है और उसे लाभ मिलता है इसे ही इनफ्लुएंसर मार्केटिंग कहते हैं।

एक रिसर्च के मुताबिक 86% महिलाएं शॉपिंग करने से पहले सोशल नेटवर्क पर इस प्रोडक्ट को चेक करती हैं।

फिर उनके इनफ्लुएंसर्स जिस प्रोडक्ट को अच्छा बताते हैं उसे ही वह खरीदती हैं, जब आप कोर्स करेंगे तो आपको इनफ्लुएंसर मार्केटिंग के बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी।

पे पर क्लिक (Pay Per Click)

बहुत सारी कंपनियां अपने प्रोडक्ट या सर्विस को प्रमोट करने के लिए PPC (Pay Per Click) मॉडल का प्रयोग करती है।

आपने कई बार ध्यान दिया होगा कि जब भी आप किसी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे यूट्यूब गूगल आज को चलाते हो तो उसके नीचे कुछ ऐड्स दिखाई देते हैं।

ये एड्स पे पर क्लिक मॉडल पर चलाए जाते हैं, जब आप डिजिटल मार्केटिंग कोर्स को करेंगे तो आपको इसके बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी कि कैसे आप इसका प्रयोग करके अधिक सेल ला सकते हैं।

#4. डिजिटल मार्केटिंग कोर्स करने के लिए योग्यता

वैसे तो डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स करने के लिए किसी खास योग्यता की आवश्यकता नहीं होती है, यदि आप 12 पास भी हैं तो भी आप डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स कर सकते हैं। 

लेकिन यदि आप ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स करते हैं, तो आपको किसी अच्छे कंपनी में अच्छे पैकेज पर जॉब लग सकती है। 

#5. डिजिटल मार्केटिंग फीस

वैसे तो डिजिटल मार्केटिंग का फीस निर्धारित नहीं है अलग-अलग इंस्टिट्यूट अलग-अलग फीस चार्ज करते हैं, कुछ इंस्टिट्यूट बहुत कम पैसों में ही डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स प्रदान करते हैं।

जबकि कुछ इंस्टीट्यूट बहुत अधिक पैसों में डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स देते हैं, एक अनुमान के मुताबिक डिजिटल मार्केटिंग कोर्स को आप 15000 से लेकर ₹100000 रुपए तक कर सकते हैं।

#6. डिजिटल मार्केटिंग सैलेरी

डिजिटल मार्केटिंग की सैलरी आपके काम पर निर्भर करती है यदि आपका स्किल बढ़िया रहेगा तो आपको अच्छे सैलरी पर हायर किया जाएगा लेकिन यदि आप की स्किल बढ़िया नहीं रहेगी तो आपको शुरुआत में 10000 से 12000 ही दिया जाएगा वैसे भारत में एक डिजिटल मार्केटिंग की औसतन सैलरी ₹500000 प्रति वर्ष की है।

जब आप डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स पूरा कर ले तो सबसे पहले आप इंटर्नशिप के लिए अप्लाई करें जिससे कंपनी में कैसे काम किया जाता है इसके बारे में आप जान सकते है और अपना कुछ एक्सपीरियंस बढ़ा सकते हैं। 

इंटर्नशिप के लिए आप intershala.com पर जा सकते हैं और इंटरनेट से प्राप्त कर सकते हैं यहां पर कुछ इंटरशिप करने पर आपको पैसे भी दे जाते हैं जिससे आप सीखते भी रहे और आपका मोटिवेशन भी बना रहे।

Telegram Group (Join Now) Join Now
WhatsApp channel (Join Now) Join Now

HindiKiGuides एक Informational Blog है, जहां पर आपको Make Money, Business, Education, Internet, Jobs & Career से संबंधित जानकारी सरल भाषा में प्रकाशित की जाती है।

Leave a Comment