पढ़ाई करने से पहले क्या करना चाहिए के Top 8 तरीके (padhai karne se pahle kya karna chahiye)

Telegram Group (Join Now) Join Now
WhatsApp channel (Join Now) Join Now

हम सभी को इस बात की बहुत अच्छे से जानकारी प्राप्त है, कि पढ़ाई जिंदगी के लिए कितना महत्वपूर्ण है। यदि हम पढ़ाई नहीं करेंगे, तो हमारा भविष्य अंधकार में जा सकता है, तो आप अपने भविष्य को अंधकार में जाने से रोकने के लिए पढ़ाई अवश्य करें।

वैसे, जब ज्यादातर छात्र पढ़ने बैठते हैं, तो उन्हे समझ में नहीं आता है कि पढ़ाई कैसे करें? तो हम आपको बता दें कि आज हम आपको इस लेख के माध्यम से यह बताने जा रहे हैं, कि पढ़ाई करने से पहले क्या करना चाहिए?

यदि आपने यह पूरी अच्छी तरह से समझ लिया कि पढ़ाई करने से पहले क्या करना चाहिए। तो आप बिल्कुल अच्छी तरह से अपने पढ़ाई पर फोकस कर सकते हैं और अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं, इसके अतिरिक्त आप जल्द ही सफलता को हासिल कर सकते हैं, 

तो आइए देर न करते हुए अब हम आपको इस बात की जानकारी देते हैं, कि पढ़ाई करने से पहले क्या करना चाहिए? जिससे आप अपने पढ़ाई में मन लगा सके और अच्छे अंक प्राप्त कर सके तथा घर की डांट से बच सके।

पढ़ाई करने से पहले क्या करना चाहिए – padhai karne se pahle kya karna chahiye

पढ़ाई करने से पहले क्या करना चाहिए के Top 8 तरीके - (padhai karne se pahle kya karna chahiye)
Telegram Group (Join Now) Join Now
WhatsApp channel (Join Now) Join Now

जब कभी भी कोई छात्र पढ़ाई करना पड़ता है, तो पढ़ाई में पूरी तरह से फोकस नहीं कर पाता और इस वजह से उसको अपनी पढ़ाई समझ में नहीं आते हैं। तो आप अपनी पढ़ाई को समझने के लिए नीचे दिए हुए तरीकों को पढ़ें।

आप इन तरीकों को अच्छे से समझ में आएंगे, तो आप काफी सफलतापूर्वक अपने पढ़ाई को जारी रख सकते हैं और आप मन लगाकर पढ़ाई कर सकते हैं। 

इसके अतिरिक्त आपको पढ़ाई में कभी भी बोरिंग महसूस नहीं होगी, तो पढ़ाई करने से पहले क्या करना चाहिए? के तरीके निम्न प्रकार से नीचे दिए गए हैं।

#1. नींद पूरा करें

किसी भी छात्र को भरपूर नींद लेना चाहिए, ताकि पढ़ते वक्त नींद ना आए। आज के वर्तमान समय में ज्यादातर लोग देर रात तक मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं। 

सुबह जल्दी उठकर अपने काम पर निकल जाते हैं और जब अपना काम करते हैं या फिर पढ़ाई करते हैं, तो उनको नींद आने लगती हैं,

तो इस समस्या से बचने के लिए सबसे पहले आपको भरपूर नींद लेना चाहिए। इसके लिए आप कोशिश करें कि देर रात तक मोबाइल का इस्तेमाल ना करें और समय पर सो जाएं।

जिससे आप सही समय पर उठ पाएंगे और जब कभी आप पढ़ाई या फिर कोई अन्य काम करेंगे, तो तब आपको नींद नहीं आएगी।

वैसे, ज्यादातर छात्रों को पढ़ाई करते समय नींद आने लगती हैं, जिससे उनकी पढ़ाई सही से हो नहीं पाती हैं और उनका बहुत सारा समय नुकसान होता है।

तो सबसे पहले आप भरपूर नींद ले ले, उसके बाद पढ़ाई की शुरुआत करें। भरपूर नींद का मतलब यह है, कि आप 24 घंटे में से 8 घंटे सोने के लिए समय निकालें।

यदि आपकी नींद 8 घंटे से कम में भी पूरा हो जाती है, तो बहुत अच्छी बात है, क्योंकि आप अपने पढ़ाई पर ज्यादा समय दे सकते हैं।

सामान्य तौर पर प्रत्येक व्यक्ति को 8 सोना चाहिए। यदि आप 8 घंटे से ज्यादा सोते हैं, तो ऐसा आपके सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है।

#2. मेडिटेशन करें

यदि आप प्रत्येक दिन मेडिटेशन करते हैं, तो आपका मन पूरी तरह से शांत रहता है और चीजों के बारे में सोचने समझने की शक्ति बढ़ती है। 

इसके अतिरिक्त आप जो कुछ काम करेंगे उस काम में आपका मन ललेगा, तो पढ़ाई करने से पहले मेडिटेशन कर ले और जब आपका दिमाग शांत हो, जाए तो पढ़ाई करने के लिए बैठ जाए।

मेडिटेशन एक ऐसी प्रक्रिया है, जो लंबे समय तक करने के पश्चात उसका कुछ प्रभाव दिखता है और हम आपको बता दें कि मेडिटेशन से संबंधित कुछ म्यूजिक है।

आप उन म्यूजिक का इस्तेमाल करके पूर्ण रूप से मेडिटेशन की प्रक्रिया पूर्ण कर सकते हैं और साथ में यूट्यूब का इस्तेमाल करके मेडिटेशन करना सीख सकते हैं।

मेडिटेशन एक बहुत ही अच्छी प्रक्रिया है। प्रत्येक व्यक्ति को यह कोशिश करना चाहिए, कि वह अपने 24 घंटे में से कुछ समय मेडिटेशन के लिए जरूर निकालें।

तो आप अवश्य कोशिश करें कि पढ़ाई करने से पहले 5 से 10 मिनट में मेडिटेशन पर समय दें, जिससे आपका पूरा ध्यान पढ़ाई पर केंद्रित हो।

#3. टाइम टेबल बनाएं

पढ़ाई करने से पहले आपको टाइम टेबल बना देना चाहिए। जब अब टाइम टेबल बना लेंगे। तो नियमित रूप से पढ़ाई पर ध्यान देंगे और आप कोशिश करेंगे।

कि आपके बनाए हुए टाइम टेबल के अनुसार सीमित समय में पढ़ाई पूरी करें। इस वजह से आपका पूरा ध्यान पढ़ाई पर केंद्रित हो सकता है।

टाइम टेबल बनाने से आप केवल पढ़ाई पर ही ध्यान नहीं देंगे, बल्कि आप अपने कामों को सही समय पर करना सीख जाएंगे और नियमित समय पर काम को पूरा करना एक अच्छी आदत माना जाता है। तो आप इस अच्छी आदत को अवश्य अपनाएं।

हालांकि, ज्यादातर छात्र या व्यक्ति समय सारणी बना लेते हैं, पर वह समय सारणी का अनुसरण नहीं कर पाते हैं। तो हम आपको यह बता देते है, कि किसी भी काम को शुरुआत करने में थोड़ी दिक्कतें आते हैं।

यदि आपने एक बार डटकर किसी भी दिक्कतों का सामना कर लिया, तो आप काफी आसानी से अपने काम को कर सकते हैं।

#4. दिमाग को शांत करें

किसी भी छात्रों को पढ़ाई की शुरुआत करने से पहले अपने दिमाग को शांत करना बहुत ही जरूरत है और दिमाग को शांत करने के लिए हमने सबसे बढ़िया उपाय मेडिटेशन बारे में बताया है।

जब तक आपका दिमाग पूरी तरह से शांत नहीं रहेगा, तब तक आप पढ़ाई में फोकस नहीं कर पाएंगे। 

आप हमेशा इधर उधर की बातें सोचेंगे, इस वजह से आपका समय की बर्बादी होगी और आपको समझ में नहीं आएगा। कि आप क्या पढ़ रहे हैं, तो आप अपने दिमाग को अवश्य शांत रखें।

दिमाग को स्थिर रखने पर आप केवल मन लगाकर पढ़ाई ही नहीं करेंगे, बल्कि प्रत्येक काम को बहुत ही अच्छे से और सही समय पर समाप्त करेंगे और किसी भी व्यक्ति सही से बात करेंगे।

क्योंकि आप उनकी बातों को सही से समझने लगेंगे, तो दिमाग को शांत करने की कोशिश करें।

#5. शांत स्थान का चयन करें

पढ़ाई करने के लिए केवल शांत दिमाग का होना ही जरूरी नहीं है, बल्कि शांत स्थान का  होना बहुत जरूरी है। 

जब तक आपको शांत स्थान प्राप्त नहीं होगा, तब तक आप अपने पढ़ाई में पूर्ण रूप से फोकस नहीं कर पाएंगे, तो इसलिए शांत स्थान का अवश्य चयन करें।

यदि आप किसी ऐसे स्थान पर बैठकर पढ़ाई कर रहे हैं, जहां पर कुछ बात या फिर तेज शोर-शराबे हो रहे हैं। 

तो उस वक्त आप पढ़ाई नहीं कर पाएंगे और उन शोर-शराबा में ही व्यस्त रह जाएंगे।तो पढ़ने के लिए शांत स्थान का चयन करना बहुत ही जरूरी है।

#6. टारगेट फिक्स करें

जब आप पढ़ने बैठ रहे हैं, तो आप यह फैसला ले ले कि आज के दिन आप कौन सा टॉपिक समाप्त करेंगे।

अर्थात आप जो कुछ भी पढ़ेंगे उसे अच्छे से समझ लेंगे कि आपको वह फिर दोबारा समझना ना पड़े, बस आप एक बार रिवीजन करें और आपके दिमाग में पूरी तरह से स्थिर हो जाए।

यह जरूरी नहीं कि आप केवल पढ़ाई के लिए टारगेट बनाएंगे, आप किसी भी काम को टारगेट बनाकर पूरा कर सकते हैं। यदि आप पढ़ाई में टारगेट फिक्स कर लेते हैं।

तो सही समय पर आप का syllabus समाप्त हो सकता है और पेपर के वक्त आपको ज्यादा नहीं पढ़ना पड़ेगा, इसलिए टारगेट अवश्य बनाएं।

#7. syllabus को टॉपिक में बांटे

पढ़ाई करने से पहले आप जो कुछ भी पढ़ने जा रहे हैं, उसे छोटे-छोटे टॉपिक में विभाजित कर ले। जब आप छोटे-छोटे टॉपिक में बांट लेंगे।

तो आप चीजों को काफी आसानी से समझ पाएंगे और आपकी पढ़ाई भी आसान हो जाएगी। इसके अतिरिक्त पढ़ाई को बहुत कम समय में पूरा कर सकते हैं।

यदि कोई छात्र एक समय ही ज्यादा चीजें पढ़ने लगता है, तो उसे समझ में नहीं आता है, जिससे समय काफी बर्बाद होता है।

फिर से वह उन्हीं चीजों को दोबारा पड़ता है, तो आप ऐसा ना करो आप अवश्य अपने सिलेबस को छोटे-छोटे टॉपिक में बांट लें और उसी के अनुसार पढ़े।

#8. पढ़ने की सही स्थिति में बैठे

जब आप पढ़ाई करने के लिए बैठे तो सबसे पहले आप पढ़ाई की सही स्थिति में बैठे अर्थात आप कभी भी बिस्तर पर लेट करना पड़े आप पढ़ने के लिए कुर्सी और मेज का इस्तेमाल करें। 

इससे आप लंबे समय तक पड़ेंगे और आपका पूरा फोकस आपके अपनी पढ़ाई पर होगा।

यदि आपके पास कुर्सियां में उपस्थित नहीं है, तो आप फर्श या चौकी पर दीवाल का सहारा लिए बिना बैठे और इसके बाद अपनी पढ़ाई को शुरू करें।

क्योंकि ज्यादातर छात्र पढ़ते-पढ़ते लेट जाते हैं और फिर धीरे-धीरे सो जाते हैं, तो आपको ऐसा नहीं पता आप सदैव सही स्थिति में बैठकर पढ़ाई को जारी रखें।

Conclusion – padhai karne se pahle kya karna chahiye

आज हमने आपको इस लेख के माध्यम से पढ़ाई करने से पहले क्या करना चाहिए? के बारे में बताने का प्रयास किया है। 

हम उम्मीद करते हैं, कि आपको पढ़ाई करने से पहले क्या करना चाहिए? के बारे में जो भी जानकारी प्राप्त हुई होगी, 

वह आपको पूर्ण रूप से समझ में आई होगी और आप इन सभी नियम का फॉलो करके अपने पढ़ाई को जारी रखेंगे। 

इसके अतिरिक्त यदि आपको अपनी स्थिति के अनुसार कोई अन्य तरीका आरामदायक हो, तो उसे पूर्ण कर सकते हैं।

Telegram Group (Join Now) Join Now
WhatsApp channel (Join Now) Join Now

HindiKiGuides एक Informational Blog है, जहां पर आपको Make Money, Business, Education, Internet, Jobs & Career से संबंधित जानकारी सरल भाषा में प्रकाशित की जाती है।

Leave a Comment